हाथरस केस में पीड़ित की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई, नहीं हुई दुष्कर्म की पुष्टि : प्रशांत कुमार

लखनऊ। हाथरस केस को लेकर चल रहे हंगामे के बीच पीड़िता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ चुकी है। रिपोर्ट में बताया गया है कि पीड़िता के साथ 14 सितंबर को बर्बर तरीके से मारपीट की गई थी, जिसके कारण उसको गंभीर चोट आई थी। हालांकि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामूहिक दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है।

दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद फोरेंसिंक लैब की रिपोर्ट से भी इसकी पुष्टि हो गई है कि उसके साथ दुष्कर्म या सामूहिक दुष्कर्म नहीं हुआ था। वहीं, इन सबके बीच यूपी पुलिस ने बड़ा बयान आया है।

कहा गया है कि हाथरस मामले में मृतक लड़की से दुष्कर्म नहीं हुआ था। आगरा में विधि विज्ञान प्रयोगशाला में जांच के बाद ये दावा यूपी पुलिस के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने किया है।

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक, पीडि़ता की गर्दन पर चोट के निशान हैं और रीढ़ की हड्डियां भी टूटी हुई हैं। पीड़िता को ब्लड इन्फेक्शन और हार्ट अटैक भी आया था। रिपोर्ट के मुताबिक. मौत का वक्त 29 सितंबर सुबह 6 बज कर 55 मिनट बताया जा रहा है।

इस मामले में पीड़िता की फोरेंसिक साइस लैब की रिपोर्ट आ गई है। इसमें भी उसके साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार कहा कि मामले को अनावश्यक तूल देकर माहौल खराब करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि हाथरस कांड को लेकर यूपी सरकार पूरी तरह बैकफुट पर आ गई है। इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बुधवार को चर्चा की थी जिसके बाद प्रदेश सरकार ने तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया जो कि मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *