गाजियाबाद हादसाः सीएम योगी का निर्देश, आरोपियों पर हो रासुका की कार्रवाई

लखनऊ। गाजियाबाद के मुरादनगर के श्मशान घाट में हुए दर्दनाक हादसे के बाद यूपी सरकार ताबड़तोड़ कार्रवाई में जुट गयी है। सीएम ने इस हादसे के सभी आरोपितों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इस घटना के जिम्मेदार इंजीनियर और ठेकेदार के खिलाफ रासुका लगाने के साथ ही दोषी इंजीनियर व ठेकेदार से नुकसान की वसूली होगी और ठेकेदार व इंजीनियर को ब्लैक लिस्ट भी किया गया है।

सीएम योगी आदित्यनाथ के कार्यालय से डीएम और कमिश्नर को नोटिस जारी कर पूछा जब सितंबर में 50 लाख के ऊपर के निर्माण कार्य का भौतिक सत्यापन का निर्देश जारी किया गया था, तब यह चूक क्यों हुई? इसके साथ ही सीएम ने जिन आश्रित परिवार के पास आवास नहीं हैं, उन्हें आवासीय सुविधा मुहैया करने के भी निर्देश दिए हैं।

बता दें कि, इस हादसे में मृत परिजनों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की गई है। इससे पहले इस हादसे में मृत के आश्रितों को दो-दो लाख रुपया ही सहायता राशि घोषित की गई थी।

उत्तराखंड से पकड़ा गया ठेकेदार
श्मशान घाट की छत गिरने के बाद योगी सरकार ताबड़तोड़ कार्रवाई में जुटी हुई है। रविवार देर रात देर रात ही नगरपालिका की अधिशासी अधिकारी (ईओ), अवर अभियंता (जेई) और सुपरवाइजर को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, आरोपी ठेकेदार घटना के बाद से फरार हो गया था, जिसके ऊपर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया। वहीं, ठेकेदार अजय को उत्तराखंड से गिरफ्तार किया गया है। अजय की लोकेशन पता लगने के बाद पुलिस ने उत्तराखंड पुलिस से संपर्क किया और टीमों को भेजकर आरोपित को इनाम घोषित होने के साढ़े तीन घंटे बाद ही दबोच लिया। इस हादसे में अभी तक 25 लोगों की जान चली गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *