सीएम योगी का सराहनीय फैसला: पीएसी के हेड कांस्टेबल और सब-इंस्पेक्टर को तुरंत प्रमोशन

लखनऊ। डिमोट होने वाले पीएसी के हेड कांस्टेबल और सब इंस्पेक्टर के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा फैसला लिया है। सीएम ने डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी को पीएसी के हेड कांस्टेबल और सब इंस्पेक्टर को तुरंत प्रमोशन देने का निर्देश जारी किया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बीते दिनों डिमोट कर सिविल पुलिस में भेजे गए पीएसी के करीब 900 जवानों को तत्काल पदोन्नति दिए जाने का निर्देश दिया है।

वहीं, पीएसी के हेड कांस्टेबल ओर सब इंस्पेक्टर को डिमोट किए जाने की जानकारी होने पर सीएम ने इसको लेकर नाराजगी जताई है। इसके साथ ही उन्होंने अधिकारियों के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं। वहीं, सीएम योगी के इस आदेश के बाद एडीजी स्थापना पीयूष आनंद व अन्य अधिकारियों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

सीएम ने पीएसी के कतिपय जवानों को पदावनत करने के प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए पुलिस महानिदेशक को निर्देश दिया है कि वह समस्त कार्मिकों की नियमानुसार पदोन्नति सुनिश्चित कराएं। सीएम ने कहा है कि शासन के संज्ञान में लाए बगैर ऐसी कार्यवाही से पुलिस बल के मनोबल पर प्रभाव पड़ता है।

शासन के संज्ञान में प्रकरण को लाए बगैर ऐसा निर्णय जिन अधिकारियों ने लिया है, उन सभी का उत्तरदायित्व निर्धारित कर शासन को आख्या भी उपलब्ध कराएं। बता दें कि, पिछले दिनों यूपी के एडीजी (स्थापना) पीयूष आनंद के एक आदेश से हड़कंप मच गया। करीब 900 पुलिसकर्मियों को जिला पुलिस से वापस पीएसी में भेज दिया गया।

इससे आर्म्ड पुलिस से सिविल पुलिस में गए सिपाहियों का डिमोशन हो गया। इसमें हेड कांस्टेबल, 6 सब इंस्पेक्टर को कॉन्स्टेबल बनाया दिया गया। बीते 20 सालों में ये सभी पीएसी से सिविल पुलिस में गए थे। पीएसी में कॉन्स्टेबल के पद से ये सभी सिविल पुलिस में गए थे।

सिविल पुलिस में प्रमोशन पाकर ये हेडकॉन्स्टेबल, सब इंस्पेक्टर बन गए थे। हालांकि मामले में एडीजी स्थापना ने दावा किया था कि किसी भी कर्मचारी का नुकसान नहीं होने दिया जाएगा। अपने बैच के मुताबिक सभी पुलिसकर्मियों को सीनियॉरिटी मिलेगी। लेकिन इस निर्णय से शासन तक बवाल मच गया। शिकायत मुख्यमंत्री तक पहुंची तो उन्होंने नाराजगी जताते हुए डीजीपी को निर्देश दिए कि इन सभी 900 जवानों को तुरंत प्रमोशन किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *